NASA_MARS

NASA_MARS

By: | Updated: 20 Apr 2015 05:52 PM

वाशिंगटन: अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने मंगलग्रह की यात्रा करने वाले अंतरिक्षयान के चालक दल की सुरक्षा के लिए उन्नत डिजाइन के सिद्धांतों और सुझावों के लिए 30,000 डॉलर तक के इनाम की पेशकश की है.

 

नासा ने हाल ही में सुदूर अंतरिक्ष मिशनों के विकिरण जोखिम को कम करने की चुनौती के पांच विजेताओं को 12,000 डॉलर की राशि ईनाम में दी थी. नासा अब 2030 के दशक में वर्ष 2025 तक मनुष्यों को एक क्षुद्रग्रह पर भेजने के लिए जरूरी क्षमताएं विकसित कर रहा है.

 

नासा समर्थित सेंटर फॉर कोलैबरेटिव इनोवेटिव के उपप्रबंधक स्टीव रेडर ने बताया, "हम जनता के उत्साह से बहुत प्रभावित हैं, जिन्होंने मानवीय अंतरिक्ष अन्वेषण की इस अत्यंत जटिल समस्या के समाधान सुझाने में दिलचस्पी दिखाई."

 

रेडर ने कहा, "हम इन विभिन्न संरक्षण दृष्टिकोणों के लिए सर्वोत्कृष्ट समाकृति खोजने की अगली चुनौती पर लोगों की प्रतिक्रियाओं की ओर देख रहे हैं."

 

पृथ्वी की न्यूनतम कक्षा से परे अंतरिक्षयात्रा करने वाले भविष्य के अंतरिक्ष यात्रियों के लिए सौर-मंडल से बाहर निकलने वाली गैलेक्टिक ब्रह्मांडीय किरणें(जीसीआर), उच्च ऊर्जा विकिरण बहुत बड़ा मुद्दा है.

 

ये प्रभारित कण ब्रह्मांड में फैल जाते हैं और अंतरिक्ष अन्वेषण के दौरान इनका खतरा अनिवार्य है, क्योंकि मंगल ग्रह के मिशनों के लिए चालक दल को पृथ्वी के चुंबकीय क्षेत्र और वातावरण के संरक्षण से लगभग 500 दिनों तक परे रहने की जरूरत होगी. इसलिए यह जानना सबसे पहली वरीयता होगी कि जीसीआर के खतरे के प्रभाव से मानव अन्वेषकों की सुरक्षा कैसे की जाए.

 

नई चुनौती में ऐसे विचारों और सिद्धांतों को मूल्यांकन होगा, जो दीर्घकालिक गहन अंतरिक्ष मिशनों के दौरान चालक दल के सदस्यों को जीसीआर के जोखिम के कुल विकिरण को कम करने के समाधान ढूंढ़ने के नासा के लक्ष्य को पूरा करेंगे. नासा की इस चुनौती में 29 अप्रैल से 29 जून, 2015 तक कोई भी भाग ले सकता है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मालदीव ने संविधान और भारत के अनुरोध को ताक पर रखा, 30 दिनों तक बढ़ाई इमरजेंसी