'सार्क' में पर्यवेक्षकों की सक्रिय भूमिका के लिए पाकिस्तान ने दिया जोर

By: | Last Updated: Wednesday, 26 November 2014 7:43 AM
Pakistan joins chorus for bigger China role in Saarc, India says no

काठमांडो: पाकिस्तान ने आज आठ सदस्यीय ‘सार्क’ मंच पर पर्यवेक्षक देशों की अधिक भागीदारी की मांग करते हुए कहा कि उसे सहमति बनाने और असहमतियों को कम करने की दिशा में काम करना चाहिए. इसके साथ ही पाकिस्तान ने ‘विवादमुक्त’ दक्षिण एशिया का आह्वान किया.

 

18वें दक्षेस शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा की गई यह टिप्पणी पर्यवेक्षक का दर्जा रखने वाले चीन द्वारा सक्रिय सदस्य बनने के लिए किए जा रहे प्रयासों की पृष्ठभूमि में आई है.

 

शरीफ ने कहा, ‘‘मैं दक्षेस के पर्यवेक्षकों की भूमिका के महत्व पर भी जोर देना चाहूंगा. उनके साथ संवाद से दक्षेस को लाभ पहुंच सकता है. दक्षेस के वादे और इसके क्रियांवयन को हकीकत में बदलने के बीच के अंतर को पाटना जरूरी है.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘हमें सहमति बनाने और असहमतियों को कम करने की दिशा में काम करना चाहिए. सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण यह है कि हम क्षेत्र की जनता के कल्याण के लिए पूरक पहलें करें.’’

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Pakistan joins chorus for bigger China role in Saarc, India says no
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: China India Pakistan SAARC
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017