ब्रिक्स घोषणापत्र के बाद अमेरिका सख्त, 'आतंकी संगठनों के प्रति रुख बदले, कार्रवाई करे पाक'

ब्रिक्स घोषणापत्र के बाद अमेरिका सख्त, 'आतंकी संगठनों के प्रति रुख बदले, कार्रवाई करे पाक'

पाकिस्तान ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है कि यह इन संगठनों को पनाह दे रहा है.

By: | Updated: 07 Sep 2017 07:47 PM

वाशिंगटन: अमेरिका ने गुरुवार को कहा कि पाकिस्तान को अपनी सरजमीं से संचालित होने वाले आतंकी संगठनों को लेकर अपने रूख को जरूर बदलना चाहिए. इसके साथ ही अमेरिका ने यह भी कहा कि पाकिस्तान को उनके खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करनी चाहिए. विदेश विभाग के प्रवक्ता ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘जैसा कि ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि पाकिस्तान को अवश्य ही अपना रूख बदलना चाहिए. ’’


दरअसल, उनसे ब्रिक्स घोषणापत्र के बारे में पूछा गया था, जिसमें पाकिस्तान स्थित लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद का जिक्र किया गया. ये संगठन क्षेत्र में समस्या पैदा कर रहे हैं. प्रवक्ता ने कहा कि हम पाकिस्तान सरकार से उम्मीद करते हैं कि वह क्षेत्र में खतरा पैदा कर रहे पाक स्थित आतंकी संगठनों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करेगी.


पाकिस्तान ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है कि यह इन संगठनों को पनाह दे रहा है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा आसिफ ने एक समाचार चैनल से कहा कि आतंकी संगठनों के बारे में ब्रिक्स की चिंताओं को चीन का आधिकारिक रूख नहीं मानना चाहिए.


चीन ने पाक के विदेश मंत्री को दिया न्योता, कहा- सदाबहार रणनीतिक साझेदार है पाकिस्तान

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story भारत ने पाकिस्तान से कहा- जाधव की पत्नी और मां की सुरक्षा की गारंटी चाहते हैं