रमीज ने आईसीसी से संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन प्रोटोकाल में बदलाव की मांग की

By: | Last Updated: Thursday, 2 October 2014 7:10 AM
pakistani cricketer rameez raza asks icc to review it bowling action protocol

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रमीज राजा

कराची: पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रमीज राजा ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद को अवैध गेंदबाजी एक्शन पर अपने नये प्रोटोकाल में बदलाव करने की जरूरत है जिससे कि यह सुनिश्चित हो सके कि ‘दूसरा’ खेल का हिस्सा बना रहे.

 

रमीज ने जियो सुपर चैनल से कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि आईसीसी ने मन बना लिया है कि वह ऐसे गेंदबाजों के प्रति कोई नरमी नहीं बरतेगा जिनके बारे में उसे लगता है कि वह प्रणाली से बचने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन आईसीसी को साथ ही सुनिश्चित करना होगा कि गैरपारंपरिक गेंदबाज क्रिकेट से दूर नहीं हो जाएं.’’

 

अब कमेंटेटर की भूमिका निभाने वाले रमीज का मानना है कि आईसीसी नियम के तहत कोहनी को मोड़ने की सीमा को मौजूदा 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 18 से 20 प्रतिशत तक कर सकता है.

 

उन्होंने कहा, ‘‘एक कमेंटेटर के रूप में मैं आपको बता सकता हूं कि ये गैरपारंपरिक गेंदबाज क्रिकेट में रोमांच लाते हैं और ‘दूसरा’ गेंद ऑफ स्पिनर के लिए वैध हथियार बन गई है, वे अब इसके बिना नहीं चल सकते.’’

 

इस पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने कहा कि अब नियम साफ तौर से बल्लेबाजों के पक्ष में हैं और ऐसे में आईसीसी को गेंदबाजों को थोड़ी छूट देनी चाहिए. रमीज ने कहा, ‘‘नियमों में थोड़ा बदलाव खेल के लिए अच्छा होगा.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘आजकल गेंदबाजों की राह मुश्किल है. उनके लिए कुछ आसान नहीं है. मुझे लगता है कि नयी प्रोटोकाल प्रणाली की समीक्षा में कुछ भी गलत नहीं है.’’ पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने साथ ही कहा कि वे इस मुद्दे को इस महीने आईसीसी की बैठक में उठाएंगे.

 

इससे पहले पीसीबी प्रमुख शहरयर खान और राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच वकार यूनिस भी संदिग्ध एक्शन वाले गेंदबाजों पर नकेल कसने के समय पर सवाल उठा चुके हैं.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: pakistani cricketer rameez raza asks icc to review it bowling action protocol
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017