पुतिन का बाघ घूम रहा चीन में!

By: | Last Updated: Thursday, 9 October 2014 5:06 PM
putin’s tiger

बीजिंगः चीन के वन्यजीव अधिकारी इन दिनों एक बाघ की तलाश में हैं जिसे रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पिंजरे से निकालकर जंगल में छोड़ दिया था. कहा जा रहा है कि वह बाघ अब चीन के जंगलों में भटक रहा है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, नेचर रिजर्व के निदेश क चेन झिगेंग ने कहा कि चीन के उत्तर-पश्चिमी हेलोंगजियांग प्रांत के जुओबी में स्थित तैपिनगु नेचर रिजर्व में इस साइबेरियाई बाघ को देखा गया है.

 

चेन ने कहा, “एक रूसी विशेषज्ञ को बुलाया गया है, ताकि वह बाघ की मौजूदगी के बारे में हमें बता सके. हमें उम्मीद है कि हम उसे संरक्षित कर सकेंगे.”

 

उल्लेखनीय है कि बाघ के ऊपर ट्रैकिंग उपकरण लगा है, जिससे उसकी मौजूदगी का पता चल रहा है. फिलहाल वह चीन-रूस की सीमा के पास हेलोंगजियांग नदी के पास है.

 

चेन ने कहा कि रूस ने कर्मियों को भेज दिया है. वह बाघ की तस्वीरें लेने के लिए करीब 60 कैमरे लगाएंगे. वन पुलिस ने स्थानीय नागरिकों को रूसी बाघ से सतर्क रहने के लिए कहा है.

 

उन्होंने कहा कि रूसी बाघ के लिए भोजन की समस्या नहीं होगी, क्योंकि 20 हजार हेक्टेयर में फैला नेचर रिजर्व जैव विविधता से भरपूर है. इसके बावजूद अगर जरूरत पड़ी तो हम बाघ के भोजन के लिए पशुओं को उस इलाके में छोड़ेंगे.

 

रूसी मीडिया ने कहा कि पुतिन ने मई में कुज्या नामक बाघ सहित तीन बाघों को रिहा करने का निर्देश दिया था. ट्रैकिंग उपकरण लगे होने की वजह से पता चला कि एक युवा बाघ सीमा पार कर चीन पहुंच गया.

 

उल्लेखनीय है कि रूस, चीन और कोरियाई प्रायद्वीप में करीब 500 बाघ के होने का अनुमान है. चीन ने अपने यहां सीमाई इलाकों में 18 से 22 साइबेरियाई बाघ के होने की बात कही है.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: putin’s tiger
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017