After the Rohingya massacre in Myanmar, those returning from Bangladesh to the country include 508 Hindus

रोहिंग्या हिंसा और पलायन: बांग्लादेश से म्यामार लौटने वाले रेफ्यूजियों के पहले जत्थे में 508 हिंदू

म्यामार में रोहिग्याओं के खिलाफ हुई अमानवीय हिंसा ने उन्हें पड़ोसी देश बांग्लादेश भागने पर मजबूर कर दिया था. अब जब हालाक सामान्य हो गए हैं तब बांग्लादेश ने म्यामार को अपने देश में आए लोगों की लिस्ट सौंपी है जिन्हें वो वापस म्यामार भेजना चाहता है. वापस जाने वाले पहले जत्थे में 508 हिंदू और 750 मुसलमानों के नाम शामिल हैं.

By: | Updated: 15 Feb 2018 01:11 PM
Rohingya Massacre Migration: those returning from Bangladesh to Myanmar include 508 Hindus

संयुक्त राष्ट्र: म्यामार ने बांग्लादेश को अपने उन नागरिकों की लिस्ट सौंपी है जो बांग्लादेश में बतौर रेफ्यूजी रह रहे हैं और दोनों देशों के बीच समझौते के तहत अपने देश लौटेंगे. इस लिस्ट में 508 हिंदू और 750 मुसलमानों के नाम शामिल हैं. म्यामार के एक वरिष्ठ राजनयिक (डिप्लोमैट) ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) को इस बारे में जानकारी दी.


हाल ही में म्यामार और बांग्लादेश के बीच रोहिंग्या शरणार्थियों की देश वापसी तय करने के लिए समझौता हुआ था. पिछले साल 25 अगस्त को म्यामार में हिंसा शुरू होने के बाद 680,000 से अधिक रोहिंग्या मुसलमान बांग्लादेश में दाखिल हो गए. आपको बता दें कि म्यामार की सरकार रोहिंग्या समुदाय के लोगों को जातीय समूह के तौर पर मान्यता नहीं देती है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Rohingya Massacre Migration: those returning from Bangladesh to Myanmar include 508 Hindus
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story शहंशाह जायद की तस्वीर बेचने से दुकानदार ने किया मना, मौजूदा किंग मोहम्मद ने की मुलाकात