खून से लथपथ एक बच्चे की मदद के लिए सिख ने अपनी पगड़ी उतारी

By: | Last Updated: Saturday, 16 May 2015 4:45 PM

मेलबर्न: एक 22 साल के सिख युवक ने आज मानवता के लिए सभी धार्मिक बंधनों को तोड़ दिया. एक दुर्घटना में घायल हुए बच्चे के शरीर से खून बहता देख उसकी मदद के लिए उसने अपनी पगड़ी खोल दी और अपनी दरियादिली का परिचय दिया.

 

एक मीडिया रिपोर्ट में आज बताया गया कि हरमन सिंह उस समय अपने घर पर मौजूद था जिस समय एक पांच साल के बच्चे को एक कार ने टक्कर मार दी. वह अपनी बड़ी बहन के साथ स्कूल जा रहा था. यह घटना हरमन के घर के पास ही हुई.

 

कार की टक्कर की आवाज सुनकर सिंह तुरंत मौके पर पहुंचे. सिंह ने कहा कि उन्होंने अपनी पगड़ी उतारने से पहले जरा भी नहीं सोचा क्योंकि बच्चे के सिर से बहुत खून बह रहा था.

 

न्यूजीलैंड हेराल्ड के हवाले से सिंह ने कहा, ‘‘मैंने पगड़ी के बारे में नहीं सोचा. मैं दुर्घटना के बारे में सोच रहा था और बस यही ख्याल मेरे मन में आया कि बच्चे के सिर पर कुछ बांधने की जरूरत है क्योंकि उसके सिर से बहुत खून बह रहा है. उसकी मदद करना मेरा कर्तव्य था.’’

 

घायल बच्चे को तुरंत नजदीक के अस्पताल पहुंचाया गया और उसकी हालत स्थिर है.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sikh breaks protocol, removes turban to help injured child
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017