सीरिया में आईएस के ठिकानों पर अमेरिकी हवाई हमले: पेंटागन

By: | Last Updated: Tuesday, 23 September 2014 5:44 AM
targeted air strike on hideouts of ISIL in Syria: Pentagon

वॉशिंगटन: पेंटागन ने कहा है कि अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट के कई ठिकानों पर हवाई हमले करते हुए इस उग्रवादी संगठन के खिलाफ अपने युद्ध का दायरा बढ़ा दिया है.

 

पेंटागन के प्रेस सचिव रीयर एडमिरल जॉन किर्बी ने कल बताया, ‘‘मैं पुष्टि कर सकता हूं कि अमेरिकी सेना और सहयोगी देशों की फौजें सीरिया में लड़ाकू विमानों, बम वषर्कों और तोमहाक लैंड अटैक मिसाइलों का उपयोग करते हुए आईएसआईएल के आतंकवादियों के खिलाफ सैन्य कार्रवाई कर रही हैं.’’

 

बहरहाल, उन्होंने यह तर्क देते हुए हवाई हमलों का विस्तृत ब्यौरा नहीं दिया कि अभियान जारी हैं. किर्बी ने कहा, ‘‘ये हमले करने का निर्णय अमेरिकी सेंट्रल कमांड के कमांडर ने किया जिसे कमांडर इन चीफ ने इसके लिए अधिकृत किया था.’’

 

राष्ट्रपति बराक ओबामा और अन्य अमेरिकी नेताओं ने हाल ही में कहा था कि वे इस्लामिक स्टेट के खिलाफ हवाई हमलों का आदेश देंगे. इस्लामिक स्टेट को आईएसआईएल के नाम से भी जाना जाता है. इस आतंकी संगठन ने सीरिया में अपनी पकड़ बना ली है और सीआईए का अनुमान है कि इसके लड़ाकों की संख्या करीब 31,000 है.

 

आईएसआई ने सीरिया के पूर्वी भाग के ज्यादातर हिस्सों पर कब्जा कर लिया है और वहां तैयार किए गए अपने आधार का उपयोग उसने समीपवर्ती इराक के हिस्सों पर नियंत्रण करने के लिए किया है. राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 8 अगस्त को इराक में आईएस के खिलाफ हवाई हमले शुरू किए थे.

 

अंतरराष्ट्रीय समुदाय जून में तब हतप्रभ रह गया था जब आईएस ने उत्तरी इराक के हिस्सों से आगे बढ़ते हुए बड़े शहरों मोसुल और तिकरित पर कब्जा कर लिया और इतने आगे बढ़ गए थे कि उनसे बगदाद की दूरी 50 किमी से भी कम रह गई थी.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: targeted air strike on hideouts of ISIL in Syria: Pentagon
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: air strike hideout ISIL Pentagon Syria
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017