नॉर्थ कोरिया से तनातनी के बीच अमेरिका सिखा रहा है परमाणु हमले से बचने का तरीका

नॉर्थ कोरिया से तनातनी के बीच अमेरिका सिखा रहा है परमाणु हमले से बचने का तरीका

अमेरिका की हवाई यूनिवर्सिटी ने अपने छात्रों और कर्मचारियों को जो ईमेल भेजा है उसमें उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षणों को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियां लगातार परमाणु खतरों के बारे में जानकारियां उपलब्ध करा रही हैं.

By: | Updated: 14 Oct 2017 04:33 PM

नई दिल्ली: उत्तर कोरिया और अमेरिका में तनातनी के बीच एक नई जानकारी सामने आई है. अमेरिका की हवाई यूनिवर्सिटी ने अपने छात्रों और कर्मचारियों को एक ईमेल भेजा है, इसमें किसी भी परमाणु युद्ध से बचने की जानकारी को विस्तार से बताया गया है. वहीं ये आशंका जताई जा रही है कि उत्तर कोरिया ने अपना सातवां परमाणु परीक्षण कर लिया है.


ये आशंका इसलिए पैदा हुई क्योंकि गुरुवार की देर रात 2.9 तीव्रता का भूकंप आया जिसका केंद्र उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण स्थल के करीब था. हालांकि अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक इस भूकंप के प्राकृतिक होने की गुंजाइश ज्यादा है.


अमेरिका की हवाई यूनिवर्सिटी ने अपने छात्रों और कर्मचारियों को जो ईमेल भेजा है उसमें उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षणों को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियां लगातार परमाणु खतरों के बारे में जानकारियां उपलब्ध करा रही हैं. इसमें परमाणु हमले और विकिरण की इमरजेंसी स्थिति होने पर क्या करना चाहिए, ऐसी स्थिति में शेल्टर कहां और कैसे लेना है..ये जानकारियां शामिल हैं.


ऐसी चेतावनियों को देखते हुए सवाल ये है कि क्या अमेरिका, उत्तर कोरिया पर हमला करने जा रहा है? दरअसल ये सवाल इसलिए भी उठ रहा है क्योंकि खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उत्तर कोरिया सोमवार या मंगलवार को एक और मिसाइल या न्यूक्लियर टेस्ट करने की तैयारी कर चुका है. जाहिर है अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए एक तरह से ये बड़ी चुनौती होगी क्योंकि वो लगातार उत्तर कोरिया को सबक सिखाने की बात कहते आ रहे हैं.


अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कह चुके हैं, ‘’अमेरिका के पास ताकत और धैर्य है लेकिन अगर अपने और अपने सहयोगियों की रक्षा करने पर मजबूर किया गया तो हमारे पास उत्तर कोरिया को पूरी तरह से बर्बाद करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं है, रॉकेटमैन खुद और अपने शासन के लिए आत्मघाती मिशन पर है’’.


गौरतलब है कि डोनाल्ड ट्रंप ने दो दिन पहले ही अपने सैन्य प्रमुख और रक्षा मंत्री जिम मैटिस के साथ नॉर्थ कोरिया पर चर्चा की. उधर अमेरिकी नौसेना और दक्षिण कोरिया अगले हफ्ते से एक बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू करने जा रहे हैं, इसे उत्तर कोरिया के खिलाफ अमेरिका के शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है.


फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story नेपाल: वामपंथी गठबंधन वाली सरकार की ओर बढ़ा देश