अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों को चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार

अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों को चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार

नोबेल असेम्बली ने कहा है, ‘‘ उनकी खोजों में इस बात की व्याख्या की गई है कि पौधे, जानवर और इंसान किस प्रकार अपनी आंतरिक जैविक घड़ी के अनुरूप खुद को ढालते हैं ताकि वे धरती की परिक्रमा के अनुसार अपने को ढाल सकें.’’

By: | Updated: 02 Oct 2017 06:55 PM
स्टॉकहोम: अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों जैफ्री सी हाल , माइकल रोसबाश और माइकल डब्ल्यू यंग को इस साल के चिकित्सा के नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है. मानव शरीर की ‘‘आंतरिक जैविक घड़ी’’ विषय पर किए गए उनके उल्लेखनीय कार्य के लिए इन्हें इस सम्मान के लिए चुना गया है.

‘‘आंतरिक जैविक घड़ी’’ को सर्केडियन रिदम के नाम से जाना जाता है.

नोबेल असेम्बली ने कहा है, ‘‘ उनकी खोजों में इस बात की व्याख्या की गई है कि पौधे, जानवर और इंसान किस प्रकार अपनी आंतरिक जैविक घड़ी के अनुरूप खुद को ढालते हैं ताकि वे धरती की परिक्रमा के अनुसार अपने को ढाल सकें.’’ असेंबली ने कहा कि हाल, रोसबाश और यंग ‘आंतरिक जैविक घड़ी का पता लगाने और इसके आंतरिक कामकाज को स्पष्ट करने में सफल रहे हैं.’ यह आंतरिक जैविक घड़ी हारमोन के स्तर, नींद, शरीर के तापमान और उपापचय जैसे जैविक कार्यों को प्रभावित करती है.

तीनों वैज्ञानिकों ने उस जीन को अलग करने का काम किया जो रोजमर्रा की जैविक स्थिति को नियंत्रित करते हैं.

नोबेल टीम ने कहा, ‘‘इन्होंने दिखाया कि ये जीन उस प्रोटीन को परवर्तित करने का काम करते हैं जो रात के समय कोशिका में जम जाती हैं और फिर दिन के समय बहुत ही छोटा आकार ले लेती हैं.’’ ये तीनों वैज्ञानिक करीब 11 लाख डॉलर की पुरस्कार राशि साझा करेंगे.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest World News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पाकिस्तान: कटासराज मंदिर के अंदर से मूर्तियां गायब, SC ने मांगा जवाब