जापान में 6.6 तीव्रता के भूकंप के बाद सुनामी की चेतावनी

By: | Last Updated: Monday, 20 April 2015 6:08 AM
Tsunami warning after 6.6 magnitude quake in Japan

तोक्यो: पूर्वी ताइवान में आज 6.6 तीव्रता का भूकंप आने के बाद जापान के दक्षिणतम द्वीपों में सुनामी का पूर्वानुमान जताये जाने की खबर है जिसमें तीन तीन फुट उंची लहरें उठ सकती हैं.

 

राष्ट्रीय प्रसारक एनएचके ने कहा कि दक्षिण पश्चिम स्थित योनागुनी में केंद्रित हल्का भूकंप आने के बाद दक्षिणी ओकिनावा श्रृंखला के कई द्वीपों पर उंची लहरें उठने की संभावना है. योनागुनी ताइवान के पास स्थित है.

 

प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि ताइपे में इमारतें हिल गई थीं लेकिन ताइवान की राजधानी में कोई नुकसान नहीं देखा गया.

 

मियाको सिटी की सरकार के सातोशी शिमोजी ने एनएचके को बताया, ‘‘हम रेडियो के जरिए चेतावनियां जारी कर रहे हैं. हम चाहते हैं कि निवासी समुद्र से ज्यादा से ज्यादा दूरी पर चले जाएं.’’

 

एनएचके के अनुसार, समझा जाता है कि सुदूर योनागुनी में सुनामी आ चुकी है. हालांकि इसका ब्यौरा उपलब्ध नहीं है. सुनामी एक ऐसी अनियमित लहर होती है जिसकी वजह से समुद्री स्तर में परिवर्तन हो जाता है.

 

तटीय कैमरों से मिलने वाली लाइव फुटेज के अनुसार चेतावनी के तहत आने वाले क्षेत्र के कई बंदरगाहों में समुद्री स्तरों में कोई इजाफा देखने को नहीं मिला है.

 

पेसिफिक सुनामी वॉर्निंग सेंटर ने एक बयान में कहा कि ‘‘सभी उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, इस भूकंप से किसी सुनामी का खतरा नहीं है.’’ यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने कहा कि 6.6 तीव्रता का भूकंप ताइवान के हुआलियान से 71 किलोमीटर पूर्व में आया था. जापानी अधिकारियों ने इस भूकंप की तीव्रता 6.8 बताई थी.

 

जापान पृथ्वी की चार टैक्टोनिक प्लेटों के प्रभाव क्षेत्र में पड़ता है और हर साल पृथ्वी पर आने वाले सर्वाधिक शक्तिशाली भूकंपों में 20 प्रतिशत से ज्यादा भूकंप यहीं आते हैं.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Tsunami warning after 6.6 magnitude quake in Japan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Japan tsunami
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017