बैंकॉक विस्फोट: पुलिस ने दो भारतीयों से पूछताछ की

By: | Last Updated: Tuesday, 8 September 2015 4:07 AM
Two Indians questioned over Bangkok blast, MEA asks for details

बैंकॉक: थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक स्थित लोकप्रिय ब्रह्मा मंदिर में हुए बम विस्फोट के सिलसिले में पुलिस ने हिरासत में लिए गए उन दो भारतीयों से पूछताछ की है जो धमाके के एक विदेशी संदिग्ध से बातचीत करते हुए सीसीटीवी में कैद हुए हैं. दूसरी तरफ इस मामले में गिरफ्तार एक व्यक्ति ने बताया कि हमले का मास्टरमाइंड थाइलैंड से बाहर जा चुका है.

 

सूत्रों ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘दोनों को पूछताछ के लिए पकड़ा गया क्योंकि वे उस जगह के निकट के कमरे में रहते थे जहां पुलिस ने बम बनाने की सामग्री बरामद की थी.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पूछताछ पूरी हो चुकी है और बयान रिकॉर्ड होने के बाद उनको रिहा कर दिया जाएगा.’’ इन दोनों भारतीयों के नाम नहीं बताए गए हैं. इनको बीती रात मिनबुरी स्थित मैमुना गार्डेन होम अपार्टमेंट पर छापेमारी के दौरान पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया.

 

इसी मामले में अपार्टमेंट के एक कमरे में रहने वाले विदेशी नागरिक और उसके लिए कमरा किराये पर लेने वाली थाईलैंड की महिला की भी तलाश है.

 

इरावन ब्रह्मा मंदिर में 17 अगस्त को हुए बम विस्फोट में शामिल लोगों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है. विस्फोट में 20 लोगों की मौत हो गई थी और 100 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए थे.

 

पुलिस और सेना के अधिकारियों के संयुक्त दल ने मिनबुरी जिले के कई भवनों और किराये के मकानों पर कल छापामारी की थी.

 

मिन बुरी थाने के प्रभारी और मेट्रोपोलिटन पुलिस के उप कमांडर कोलोनर वट्टाना यिचिन ने कहा कि अपराधों पर अंकुश लगाने के उपायों के तहत छापामारी की गई थी क्योंकि इलाके में कई लोग विदेशियों को किराये पर भवन देते हैं.

 

बैंकॉक विस्फोट के मामले में पुलिस अब तक 12 विदेशी संदिग्धों के खिलाफ 10 गिरफ्तारी वारंट जारी कर चुकी है. इनमें से एक संदिग्ध के पास चीन का पासपोर्ट था. उधर, कंबोडिया की सीमा के निकट से गिरफ्तार किए गए संदिग्ध ने सेना की पूछताछ में बताया कि उसने बम रखने वाले हमलावर के लिए बम तैयार किया था. इस संदिग्ध की पहचान युसुफ मेराली के रूप में हुई है. बम रखने वाला हमलावर अभी तक पकड़ में नहीं आया है.

 

इस मामले में गिरफ्तार एडम कर्डाक उर्फ बिलाल मोहम्मद नामक व्यक्ति को सबसे पहले गिरफ्तार किया गया. उसे सेना की हिरासत से जेल भेज दिया गया है.

 

मेराली ने स्वीकार किया कि उसने बम तैयार किए और फिर उसे पीली-शर्ट वाले संदिग्ध को सौंपा, जो सीसीटीवी फुटेज में नजर आया है.

 

उसने सेना को बताया कि उसे बम तैयार करने का काम दिया गया था.

 

मेराली ने कहा कि हमले के मास्टरमाइंड की पहचान इजान के रूप में की है. उसने कहा कि इजान ने व्हाट्सऐप चैटिंग का इस्तेमाल करके इस हमले का फरमान जारी किया और इसे अंजाम दिलाया.

 

सूत्रों के अनुसार मेराली ने बताया कि इजान विस्फोट से एक दिन पहले 16 अगस्त को बैंकॉक से हवाई मार्ग से चीन भाग गया और फिर वहां से बांग्लादेश चला गया.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Two Indians questioned over Bangkok blast, MEA asks for details
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Bangkok blast
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017