UNHRC में मतदान का भारत के साथ संबंधों पर नहीं पड़ेगा असर: इजरायल

By: | Last Updated: Friday, 25 July 2014 4:20 AM
unhrc_india_vote_against_israel

संयुक्त राष्ट्र में इस्रराइल के स्थायी सद्स्य इविएटर मैनोर

नई दिल्ली: इजरायल ने आज कहा कि गाजा में उसके हमले की जांच शुरू करने के लिए संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के प्रस्ताव को भारत के समर्थन से दोनों देशों के ‘‘मजबूत’’ संबंधों पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

 

इजरायली दूतावास के एक प्रवक्ता ने यहां प्रेस ट्रस्ट को बताया ‘‘ संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में प्रस्ताव को लेकर हम निराश हैं. लेकिन इजरायल और भारत के रिश्ते मजबूत हैं और मजबूत ही रहेंगे.’’ भारत ने गाजा में इजरायल के हमले की जांच शुरू करने के लिए संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के प्रस्ताव के समर्थन में कल ब्रिक्स देशों के साथ मतदान किया. इस हमले में 700 से अधिक लोगों की जान गई है.

 

फलस्तीन द्वारा तैयार किए गए प्रस्ताव ‘‘इन्श्योरिंग रिस्पेक्ट फॉर इंटरनेशनल लॉ इन द ऑक्युपाइड पैलेस्टाइन टेरीटॅरीज, इन्क्लूडिंग ईस्ट यरूशलम’’ के लिए भारत ने ब्राजील, रूस, चीन और दक्षिण अफ्रीका के साथ मतदान किया.

 

47 देशों की संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में 29 देशों ने प्रस्ताव के पक्ष में मतदान किया जबकि 17 देशों ने खुद को मतदान से अलग रखा.

 

अमेरिका एकमात्र देश था जिसने प्रस्ताव के विरोध में मतदान किया. यूरोपीय देशों ने मतदान में भाग नहीं लिया.

 

पूर्व में भारत ने इजरायल और फलस्तीन से संघर्ष विराम पर सहमत होने तथा बातचीत शुरू करने के लिए राजनीतिक इच्छा शक्ति जाहिर करने को कहा.

 

इस संघर्ष में अब तक 770 से अधिक फलस्तीनी और 34 इजरायलियों की जान जा चुकी है.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: unhrc_india_vote_against_israel
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017