संयुक्त राष्ट्र: 1.8 लाख सीरियाई शरणार्थियों को शरण दें दुनिया के देश

By: | Last Updated: Monday, 8 December 2014 3:31 AM
united nations appeals the countries of the world to rehabilitate 1.8 lakh people of syria

फ़ाइल फ़ोटो

जिनेवा: मानवीय कार्यों से जुड़े 30 से ज्यादा संगठनों ने आज विभिन्न देशों से अपील की कि वे सीरिया युद्ध के 1.8 लाख शरणार्थियों को अपने यहां शरण दें. संयुक्तराष्ट्र शरणार्थी मामलों के उच्चायुक्त (यूएनएचसीआर) के कार्यालय के अनुसार, यह संख्या साल 2015 के अंत तक शरणार्थियों की संभावित संख्या का पांच प्रतिशत होगी.

 

इस मुद्दे पर कल जिनेवा में होने वाले सम्मेलन में चर्चा होगी. सीरिया में तीन साल के युद्ध के बाद 32 लाख से ज्यादा शरणार्थी पड़ोसी देशों में पंजीकृत हैं. इस युद्ध का अंत होता दिखाई न देने के कारण यूएनएचसीआर का मानना है कि यह संख्या साल 2015 के अंत तक बढ़कर 36 लाख तक जा सकती है.

 

यूएनएचसीआर ने कहा कि यदि देश 1.8 लाख शरणार्थियों को अपने क्षेत्रों में प्रवेश दे देते हैं और अपने द्वार खोलने वाले देशों को यदि सहायता पैकेज और आर्थिक सहयोग दिया जाता है, ‘‘तो इससे उन देशों को अपनी सीमाएं खुली रखने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा. वे यह सुनिश्चित कर सकेंगे कि सीरिया में रह रहे लोग युद्ध की स्थितियों से दूर जा सकते हैं और उनकी स्थिरता में योगदान कर सकते हैं.’’

 

एजेंसी ने कहा, ‘‘सीरिया के पड़ोसी देशों ने पिछले साढ़े तीन सालों में असाधारण उदारता का परिचय दिया है लेकिन इस संकट का बोझ बुनियादी सुविधाओं और सार्वजनिक सेवाओं पर बुरी तरह पड़ रहा है.’’ उदाहरण के लिए तुर्की और लेबनान दोनों ने ही दस लाख से ज्यादा शरणार्थियों को अपने यहां पंजीकृत किया है.

 

संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी ने उन देशों से योगदान की अपील की है, जिन्होंने अभी तक शरणार्थियों को स्वीकार नहीं किया है. इन देशों में खाड़ी देश और लातिन अमेरिकी देश शामिल हैं.

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: united nations appeals the countries of the world to rehabilitate 1.8 lakh people of syria
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017