बौने हो रहे हैं यूपी के बच्चे: रिपोर्ट

By: | Last Updated: Saturday, 27 June 2015 8:41 AM
up child_Short height

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बच्चे बौने होते जा रहे हैं, जी हां बाल विकास मंत्रालय के एक सर्वे में ये चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. मामला सामने आने के बाद बच्चों को पहले हॉटकुक खिलाया गया और फिर लंबाई बढ़ाने वाला भोजन दिया गया लेकिन उसका फायदा होता दिख नहीं रहा है. सामान्यत: तीन साल के लड़के की लंबाई 94.9 सेंटीमीटर और लड़की की 93 सेंटीमीटर होनी चाहिए, लेकिन सर्वेक्षण में लड़कों की लंबाई 89 सेंटीमीटर व लड़कियों की 88 सेंटीमीटर ही मिली है.

 

सर्वे के मुताबिक, लखनऊ और इलाहाबाद के बच्चों की लंबाई सामान्य पाई गई है, लेकिन बरेली और शाहजहांपुर में दस फीसदी बच्चों की लंबाई सामान्य से कम मिली है. इन जिलों के 3.22 लाख बच्चों की लंबाई नापी गई, यहां तीन साल की लड़कियों की औसत ऊंचाई 90-91 सेंटीमीटर के बीच मिली. वहीं पीलीभीत में तीन साल के लड़कों की ऊंचाई 89 सेंटीमीटर व लड़कियों की 87 से 88 सेंटीमीटर पाई गई.

 

इसी तरह बदायूं में भी 45 हजार बच्चों की लंबाई नापी गई, जिसमें से तीन साल के 40 फीसदी बच्चों की लंबाई 88 से 89 सेंटीमीटर के बीच मिली. चार साल के बच्चों की लंबाई 100.2 सेंटीमीटर मिली है, जबकि इस उम्र में 102.9 सेंटीमीटर होनी चाहिए. लड़कियों की लंबाई 101 सेंटीमीटर के बजाय 99.1 सेंटीमीटर मिली है.

 

इसके अलावा यूपी के कई जिले में सर्वे किया गया जिसमें बच्चों ती ऊंचाई और वजन कम मिला, यदि वजन और लंबाई इन बच्चों की लगातार गिरती रही तो यह कुपोषण की श्रेणी में आ जाएंगे. गौरतलब है कि भारत सरकार ने इस सर्वे के खुलासे से पहले आंकड़ों का मिलान सभी जनपदों की ओर से भेजे गए बच्चे के वजन और लंबाई के आंकड़ों से किया.

 

प्रमुख सचिव चंचल तिवारी ने बच्चों के बौने होने का प्रमुख कारण दूषित भोजन, पानी और वातावरण बताया, उन्होंने यह भी कहा कि बच्चों को दूषित खाना-पानी न दिया जाए, इसके लिए अभिभावकों को जागरूक किया जाए. आंगनबाड़ी केंद्रों को मॉडल बनाते हुए उनमें शौचालयों की व्यवस्था की जाए. शुद्ध पानी के लिए भी व्यवस्था केंद्र पर हो.

 

 

 

World News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: up child_Short height
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017